RAM kya hai इसकी विशेषताएं प्रकार और उपयोग की हिंदी में जानकारी

 RAM kya hai इसकी विशेषताएं प्रकार और उपयोग की हिंदी में जानकारी 2022

RAM kya hai ram का पूरा नाम रेंडम एक्सेस मेमोरी होता है ram को आप प्राथमिक मेमोरी या मेन मेमोरी भी कह सकते हैं रैम का काम होता है वर्तमान में किए जा रहा डाटा को स्टोर करना और यह एक सीपीयू का भाग होती है और इसलिए उनका डाटा आप डायरेक्ट Access कर सकते हैं

दोस्तों यह डायरेक्ट सेल्स और कुछ rows को मिलाकर बनता है जिनका अपना एक यूनिक एड्रेस होता है और इस यूनिक एड्रेस को ही हम लोग Cell Path कहते हैं

और दोस्तों सीपीयू इन सेल से इसका मतलब रैम में डाटा को काफी आसानी से एक्सेस किया जा सकता है और दोस्तों इसकि इसी खासियत के कारण इसे रेंडम एक्सेस मेमोरी कहा  जाता है

दोस्तों अगर ram की बात की जाए तो ram एक Volatile मेमोरी होती है और इसके इसी कारण इसमें डाटा हमेशा के लिए स्टोर नहीं होता है जब तक ram को पावर मिलती रहती है तब तक उसमें डाटा स्टोर रहता है जैसे ही आप कंप्यूटर को शटडाउन कर देते हैं इसका डाटा डिलीट हो जाता है

RAM की विशेषताएँ – Characteristics of Computer RAM in Hindi

ram सीपीयू का एक भाग होता है ram के द्वारा कंप्यूटर अपना कोई भी काम नहीं कर सकता है यह कंप्यूटर की प्राथमिक मेमोरी होती है ram के द्वारा कंप्यूटर के डाटा को randamly एक्सेस किया किया जा सकता है ram में डाटा estaai होता है लेकिन यह काफी तेज होती  है रैम थोड़ी महंगी होती हैं और यह मेमोरी थोड़ी अलग मेमोरी होती है

ram के प्रकार

दोस्तों आज के युग में कंप्यूटर की सबसे ज्यादा जरूरत पड़ती है और कंप्यूटर ने  आज के टाइम पर काफी विकास भी किया है जिनमें ram भी शामिल हैं ram के विकास और विशेषताओं के कारण इन्हें प्रमुख दो भागों में बांट दिया गया है

  •  SRAM
  • DRAM

SRAM का फुल नेम Static Random Access Memory होता है और इसमें  स्टेटस बताता है और इसलिए डाटा इसमें  तेज होता है और इसमें आपको बार-बार रिफ्रेश करने की बिल्कुल भी आवश्यकता नहीं होती है और दोस्तों यह  एक प्रकार की Volatile मेमोरी होती है और इसमें भी डाटा कंप्यूटर के पावर ऑन होने तक ही रहता है जैसे ही  कंप्यूटर को पावर ऑफ करते हैं इसका डाटा ऑटोमेटिक डिलीट हो जाता है

DRAM  दोस्तों दूसरे नंबर पर आती है DRAM  के फुल नेम की बात की जाए तो इसका फुल नेम  Dynamic Random Access Memory है और इसका जो डायनेमिक शब्द है इसका मतलब यही होता है कि चलाएंमान अर्थात हमेशा परिवर्तित होते रहना है इसलिए आप इस ram का इस्तेमाल करने के साथ आपको इसको लगातार  रिफ्रेश करना रहता है तब इसमें डाटा स्टोर किया जा सकता है और Dynamic Random Access Memory के कुछ उदाहरण आप इस प्रकार समझ सकते हैं जैसे कि ddr3 ram इसी ram की एक भाग है

दोस्तों अगर Dynamic Random Access Memory की बात की जाए तो सीपीयू में dram का इस्तेमाल ही किया जाता है क्योंकि इस dram से डाटा को Randomly एक्सेस किया जा सकता है और दोस्तों इस गेम में नया डाटा अपने आप स्टोर होता रहता है जिसके कारण सीपीयू की स्पीड में तेजी बनी रहती है

DRAM भी Volatile मेमोरी होती है इसलिए जब भी आपके कंप्यूटर का पावर ऑफ होगा वैसे ही इसमें मौजूद डाटा डिलीट हो जाएगा मतलब कि यह अस्थाई मेमोरी होती है और दोस्तों आजकल के आधुनिक युग में कंप्यूटर स्मार्टफोन और टेबलेट आदि में इसी DRAM  का उपयोग किया जाता है क्योंकि यह DRAM काफी सस्ती होती है

 ram और rom में क्या अंतर होते हैं

  1.  ram का पूरा नाम Random Access Memoryहोता है जबकि रोम का पूरा नाम read only memory होता है
  2. ram का काम होता है पढ़ना और लिखना मतलब इसमें दोनों चीज होती हैं लेकिन rom का काम होता है सिर्फ और सिर्फ पढ़ना यानी कि read करना
  3. दोस्तों ram के डाटा को काफी आसानी से बदला जा सकता है यह एक रेंडम एक्सेस मेमोरी होती है जबकि रोम की बात की जाए तो rom के डाटा को बदला नहीं जा सकता और यह इंपॉसिबल है डाटा को बदलना
  4. दोस्तों ram का उपयोग काफी किया जाता है और इसका उपयोग ऑपरेटिंग सिस्टम  में इसके डेटा का उपयोग किया जाता है जबकि rom की बात की जाए तो rom सिर्फ सिस्टम को शुरू करने अर्थात सेट करने मैं इस डाटा का यूज़ किया जाता है
  5. दोस्तों ram की बात की जाए तो इसमें सिस्टम को बंद करते ही से डाटा डिलीट हो जाता है मतलब अगर आपने कंप्यूटर को ऑफ कर दिया और जो भी डाटा इसमें होगा वह आटोमेटिक डिलीट हो जाता है और उसे वापस भी नहीं किया जा सकता  जबकि rom की बात की जाए तो यह भी एक read only मेमोरी होती है मतलब इसमें  डाटा सेव होता है जैसे ही कंप्यूटर को ऑफ किया जाता है इसका डाटा  डिलीट नहीं होता है
  6. दोस्तों ram के साइज की बात की जाए तो रैम का साइज काफी कम होता है और वही rom के साइज की बात की जाए तो रोम का साइज काफी अधिक तक हो सकता है

ram आपको कंप्यूटर में एक हार्डवेयर के रूप में भी देखने को मिल सकती है मतलब कि आप ram को देख सकते हैं लेकिन rom को भी आप देख सकते है और यह कंप्यूटर में hardwere के रूप में मौजूद रहती है

 RAM kya hai आर्टिकल से क्या सीखा

दोस्तों हमने हमारे इस आर्टिकल RAM kya hai में आपको बताया है कि ram क्या होती है और रैम का इस्तेमाल कंप्यूटर में क्या होता है और रेम का फुल नाम क्या है और ram के सारे uses के बारे में बताया है और इसके साथ-साथ आपको बताया है कि रैम और रोम में क्या अंतर है और यह दोनों एक दूसरे से किस प्रकार अलग हैं अगर आपको हमारे द्वारा लिखा आर्टिकल RAM kya hai अच्छा लगता है तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और हमें कमेंट करके भी जरूर बताएं कि आपको हमारे द्वारा लिखा आर्टिकल RAM kya hai कैसा लगा धन्यवाद

Leave a Comment

error: Content is protected !!